Laxmmi Bomb Movie 2020 Cast And Crew, Box Office Collection, Budget, Star Cast

Laxmmi Bomb Movie 2020 Cast And Crew, Box Office Collection, Budget, Star Cast

Laxmmi Bomb Movie 2020
Laxmmi Bomb Movie 2020

Hello, friends…, आपका  filmywapcity.com पर बहुत बहुत स्वागत है। इसी तरह से मेरे वेबसाइट को डेली विजिट करते रहिए। आज की इस पोस्ट में Laxmmi Bomb Movie 2020 के बारे में बता रहा हूँ। 

आप से अनुरोध है की पुरे  विस्तार से पढ़ें …… 

Laxmmi Bomb Movie एक आगामी फिल्म है। फिल्म भारतीय हिंदी में है। यह फिल्म 22 मई, 2020 को भारतीय सिनेमाघरों में रिलीज होगी। लक्ष्मी बम एक कॉमेडी हॉरर फिल्म है।

फिल्म लक्ष्मी बम के निर्देशक राघव लॉरेंस हैं। फिल्म का निर्माण अक्षय कुमार, मोहम्मद अकदास तुषार, तुषार कपूर ने किया है। इस फिल्म को राघव लॉरेंस ने लिखा है।

 

Laxmmi Bomb Movie 2020

 

Laxmmi Bomb Movie (2020)

Laxmmi Bomb Movie (2020)

Laxmmi Bomb Cast And Crew

 

Akshay Kumar
Vijay KaushikGirija s baba
Muskaan KhubchandaniPalak
Sharad KelkarLaxmi
Tusshar Kapoor
Elena Roxana Maria FernandesPalak
Kiara Advani

director 》 Raghav Lawrence

Casting 

 

Ishan Mishra 》casting associate

 

Camera Department

Vighnesh Dongre 》 aerial cinematographer

Sushil Mugullu 》 aerial cinematographer

 

Laxmmi Bomb Music by

 

Manj Musik

Sandeep Shirodkar

Chandan Saxena

 

Laxmmi Bomb Movie 2020 Produced by

 

Yogiraj Shetty … Post producer

Tusshar Kapoor … producer

Manan Sampat … executive producer

Shabinaa Khan … producer

Vicky Mishra … line producer

इसे भी पढ़े 

Laxmmi Bomb Movie 2020

 

Laxmmi Bomb Movie 2020 story

Laxmmi Bomb Movie 2020 अक्षय कुमार की आने वाली मूवी लक्ष्मी बम साउथ इंडियन फिल्म कंचना 2 की हिंदी रीमेक पर आधारित है इस फिल्म की पूरी कहानी क्या है हम आपको बताते हैं दोस्तों फिल्म की कहानी के मुताबिक इस फिल्म में राघव नाम का एक लड़का है जो कि एक बेरोजगार युवक है ज्यादातर समय अपने दोस्तों के साथ क्रिकेट खेलने में बिताता है 

लेकिन उसके घर के पास कुछ ऐसी डरावनी घटनाएं घटी है जिसे देखकर वह काफी डरा हुआ रहता है उसे लगता है कोई प्रेत आत्मा है जो उसे पकड़ रही है बुला रही है किसी दूसरी दुनिया का अहसास करा रही है वह इतना डरता है किसान होते ही वह अपने घर से अकेले बाहर नहीं निकलता भूतों के डर से भयभीत राघव अपनी मां के साथ ही सोता है

 और रात में बाथरूम तक अकेले नहीं जाता है उसकी मां उसके साथ बाथरूम जाती है राघव के घर में उसके भैया भाभी और उनके बच्चे भी रहते हैं जो राघव के इस व्यवहार से काफी परेशान रहते हैं घरवालों को लगता है कि राघव के मन में कोई बहेम घर कर गया है जिस कारण वह डरता है लेकिन एक दिन राघव का यह डर घरवालों के यकीन में बदल जाता है

 घरवालों को अपने घर में कुछ ऐसी अजीब रूहानी घटनाओं का एहसास होता है जिससे घर वालों के मन में घर के प्रेतवाधित यानी भूतिया होने का शक होता है इससे घर वाले काफी डर जाते हैं डरे सेहमे  घर के लोग पुजारी को बुलाकर अनुष्ठान के जरिए यह पता लगाने की कोशिश करते हैं कि क्या वाकई घर में प्रेत आत्माओं का वास है तीन अलग-अलग लोगों ने उन्हें सलाह दी कि वह कुछ ऐसा उपाय करें जिससे घर में प्रेत आत्मा है 

या नहीं इस बात का पता चल सकता है पहली सलाह के मुताबिक घर में पहले एक रंगोली पर नारियल रखते हैं और भगवान शिव से प्रार्थना करते हैं यदि नारियल घूमता है तो माना जाता है कि घर प्रेतवाधित है इसको आजमाने के लिए राघव के घरवाले ऐसा करते हैं लेकिन इससे भी यह निश्चित नहीं होता कि घर में कुछ ऐसा है दूसरी सलाह के मुताबिक घर पर एक गाय को खाना खिलाते हैं अगर गाय बिना खाना खाए घर से बाहर भाग जाती है 

तो घर को प्रेतवाधित माना जाता है इसको भी घरवाले करते हैं लेकिन स्पष्ट पता नहीं चल पाता फिर वह तीसरी चला आजमाते हैं और घर पर एक दीपक जलता हुआ छोड़कर उसमें दो बूंद खून लगा देते हैं और घर की लाइट बंद कर सभी घरवाले बाहर आ जाते हैं लेकिन दोस्तों ऐसा करते हैं जो दिखाई पड़ता है 

उसे देखकर घर वालों के होश उड़ जाते हैं दोस्तों ऐसा करते ही खामोश रात में खून से सनी हुई एक महिला प्रेतात्मा प्रकट होती है और फिर साड़ी में लिपटी और गहने पहने हुए प्रेतात्मा राघव को अपने वश में कर लेती है और इस कारण राघव कुछ ऐसा व्यवहार करने लगता है जैसे उसके घरवालों से पुरानी दुश्मनी हो इतना ही नहीं राघव कभी सफेद टोपी और घनी दाढ़ी वाले पुरुष का रूप धारण करता है तो कभी एक मंदबुद्धि बालक की तरह पागलपन जैसी हरकतें करने लगता है इस तरह घर वालों को पता चलता है कि उनके घर में एक नहीं

तीन प्रेत आत्माएं हैं घर पर एक हिंसक महिला एक हिंदी भाषी मुसलमान और एक मानसिक रूप से मंद लड़का प्रेत बनकर भटकते रहते हैं प्रेत आत्माओं के प्रकोप से बचने के लिए घर वाले तांत्रिक को बुलाते हैं जो उनमें से एक प्रेत आत्मा को अपने वश में कर लेता है और फिर वह प्रेतात्मा अपने साथ हुई अप्रिय घटना के बारे में सब कुछ करने लगती है

 और फिर पता चलता है कि कंचना नाम की वह प्रेतात्मा मरने से पहले एक किन्नर थी जिसे उसके मां-बाप अस्वीकृत कर घर से निकाल देते हैं वह पूरी तरह से असहाय हो जाती है लेकिन तभी एक दयालु मुसलमान भाई उसे अपने यहां शरण देता है जिसका एक मंदबुद्धि लड़का भी है यह तीनों साथ में रहने लगते हैं कंचन डॉक्टर बनना चाहती थी लेकिन घर से निकाले जाने के बाद वह अपनी चाहत को पूरी नहीं कर पाती है इसलिए वह मुसलमान भाई के यहां रहते हुए एक किन्नर बच्ची को गोद लेती है और कुछ समय

उसे मेडिकल की पढ़ाई के लिए विदेश भेज देती है विदेश से वापस आने के बाद किन्नर बच्चे गरीबों के लिए एक हॉस्पिटल खोलना चाहती है इसलिए कंचना अपनी बच्ची के सपने को पूरा करने के लिए जमीन खरीद ती है लेकिन कुछ दिनों बाद ही जहां उसने यह जमीन खरीदी थी उस इलाके का एक विधायक गैरकानूनी ढंग से इस जमीन पर अपना कब्जा कर लेता

 है इस बात को लेकर कंचना उससे भिड़ जाती है और परिणाम स्वरूप विधायक कंचना के साथ ही उस को शरण देने वाले मुस्लिम भाई और उसके मंदबुद्धि लड़के को मौत की नींद सुला देता है और उनकी बॉडी को सी जगह पर दफना दिया जाता है जिस जमीन पर विधायक ने अपना कब्जा किया था ऐसे में अकाल मृत्यु के चलते उन तीनों के आत्माएं हम लोग जाने की बजाय धरती पर रहकर ही अपना बदला लेने के लिए भटकने लगती हैं दोस्तों कंचना जैसे ही या कहानी तांत्रिक और राघव के घरवालों को सुनाती है उसी क्षण घर पर दो और प्रेत आत्माएं भी प्रकट हो जाती हैं यह तीनों ही प्रेत आत्माएं अपने साथ हूं

अन्याय के लिए तांत्रिक और घर वालों के सामने रोने लगती हैं और न्याय के लिए राघव के शरीर का सहारा लेने का आग्रह करती है तांत्रिक के साथ प्रेत आत्माओं की दुख भरी कहानी को रात होगी सुन रहा होता है या सुनकर राघव फिर से उनकी शांति और न्याय के लिए उन प्रेत आत्माओं को अपने अंदर प्रवेश की अनुमति देता है 

जिसके बाद ही प्रेत आत्माएं राघव के शरीर का सहारा लेकर विधायक और उसके लोगों को मारकर अपना बदला लेती हैं वहीं कुछ साल बाद राघव कंचना की इच्छा के अनुसार उसके अधूरी इच्छा को पूरी करते हुए अस्पताल का निर्माण करवाता है और फिर यह प्रेत आत्माएं शांत होती हैं दोस्तों आपको अक्षय कुमार की आने वाली फिल्म की एक कहानी हैं 

 

THANKS FOR VISITING MY SITE 

Leave a Comment

error: Content is protected !!